रेलवे के खराब खाने की अब जल्द ही इस तरह से कर सकेंगे शिकायत

नईदिल्ली(व्यूरो)।

प्रीमियम ट्रेनों के यात्रियों के लिए भारतीय रेलवे नई सुविधा लाने वाला है. इन ट्रेनों में यात्रा करने वाले जल्द ही एक नई योजना के तहत टैबलेट के जरिए ट्रेन में मिलने वाले खाने की गुणवत्ता का मूल्यांकन कर पाएंगे। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यात्री रेलवे की ओर से उपलब्ध कराए गए एक टैबलेट पर एक ऑनलाइन फार्म के जरिए अपना फीडबैक दे सकेंगे।

अधिकारी ने बताया कि खाने की गुणवत्ता, कर्मियों के व्यवहार और अन्य संबंधित मुद्दों के बारे में उपभोक्ताओं का फीडबैक लेने के लिए रेलवे ने विभिन्न खंडों में इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) के ट्रेन में तैनात सुपरवाइजरों को अब तक करीब 100 टैबलेट उपलब्ध कराए हैं।

आईआरसीटीसी के मुख्य प्रवक्ता पिनाकिन मोरावाला ने बताया कि पहली बार प्रायोगिक तौर पर अहमदाबाद-दिल्ली राजधानी में कल टैबलेट का इस्तेमाल किया गया।

मुंबई राजधानी में अगले कुछ सप्ताह में इस प्रणाली की औपचारिक शुरुआत की जाएगी। रेलवे नेटवर्क और इंटरनेट संबंधी दिक्कतों के चलते योजना को ऑफलाइन संस्करण पर भी चलाने की संभावनाएं तलाश रहा है।टैबलेट का सॉफ्टवेयर यात्री का नाम, फोन नंबर और ट्रेन संबंधी विवरण को दर्ज करता है। इसके बाद यात्रियों को एक प्रश्नावली का जवाब देना होगा।