महामहिम कार्यक्रम की रिहर्सल के चक्कर मे बुरे फंसे लोग

हरिद्वार(आवेश अंसारी)।
महामहिम राष्ट्रपति के आगमन की तैयारियों के तहत रिहर्सल के दौरान जहां-जहां से फ्लीट निकाली गई, वहां के रास्ते करीब 1 घण्टे पहले ही पूरी तरह से सील कर दिये गये थे। भेल स्टेडियम से लेकर चंडीघाट व हरकी पौड़ी तक कल के कार्यक्रम की रिहर्सल की गई। रिहर्सल के दौरान किसी को भी इधर से उधर होने नहीं दिया गया। जिससे सड़को के किनारे सहित मुख्य मार्गो के गली मोहल्लों तक मे जाम लगा गया। रिहर्सल की वजह से करीब 2 घण्टे शहर जहां के तहाँ थम गया। इस दौरान यात्रियों की ट्रेन छुटी तो बच्चो का ट्यूशन, लोग अपने जरूरी काम भी नही कर सके। जबकि दो एक जगह तो जाम व भीड़ के कारण एम्बुलेंस को निकलने में परेशानी हुई।
शनिवार को महामहिम राष्ट्रपति के आगमन को लेकर शुक्रवार को रिहर्सल किया गया। रिहर्सल के दौरान फ्लीट बीएचईएल होते हुए भगत सिंह चैक, चंद्राचार्य चैक, प्रेमनगर चैक होते हुए हरकी पैड़ी के बाद वापसी होते हुए चण्डी घाट दिव्यप्रेम सेवा मिशन कार्यक्रम स्थल तक गई। इस दौरान सभी मार्गो को सील कर दिया गया था। लोगों को इधर से उधर भी नहीं होने दिया गया। इस दौरान इलाहाबाद के रहने वाले तीन लोग अपनी रिश्तेदारी में ज्वालापुर आये हुए थे। उनकी शाम चार बजे की ट्रेन थी। जैसे ही वह आॅटो से भगत सिंह चैक पहुचें तो रास्ता बंद था। उन्होंने पुलिसकर्मियों से अपनी मजबूरी बताते हुए कहा कि उनको इलाहाबाद जाना है उनकी चार बजे की ड्यूटी है। लेकिन पुलिसकर्मी ने उनसे कहा कि फ्लीट निकलने के बाद ही जाने दिया जाएगा। फ्लीट निकलने के बाद साढ़े चार बज चुके थे। यात्रियों ने बताया कि अब उनको एक दिन का इंतेजार और करना पड़ेगा। उधर चंद्राचार्य चौक पर एक एम्बुलैंस में मरीज की हालत गम्भीर होने की वजह से एम्बुलैंस को जाने दिया गया। मध्य हरिद्वार क्षेत्र में पड़ने आने वाले कई बच्चों के ट्यूशन भी छूट गए।