सफर के दौरान ना होने दें पानी की कमी

याद रखिए गर्मियों में आप छुट्टियों पर बाहर जाने का प्‍लान बनायें तो पानी का पूरा इंतजाम करके जायें क्‍योंकि डिहाइड्रेशन हो सकता है खतरनाक।

पानी की कमी है खतरनाक 

आप चाहे जैसे सफर कर रहे हों ट्रेन से, सड़क पर किसी वाहन से या हवाई जहाज से पर आपके पास पानी की पूरी व्‍यवस्‍था होनी चाहिए, क्‍योंकि शहर में पानी की कमी यानि डीहाइड्रेशन एक आम समस्‍या है जो नियंत्रण के बाहर होने पर खतरनाक हो सकती है। डिहाईड्रेशन आप को कभी भी और कहीं भी हो सकता है फिर चाहें आप जैसे सफर करें। आप को डिहाईड्रेशन से निपटने के लिए हमेशा तैयार रहना होगा।

प्‍लेन में भी होती है पानी की कमी

सोचिये आप किसी प्‍लेन में सफर कर रहे हैं। जहां आप जा रहे हैं वहां तक जाने के लिए सिर्फ दो से तीन घंटे का ही समय लगता है। इस दौरान आप प्‍लेन में स्‍नैक्‍स भी सर्व किया जा चुका हो और जहां आप लैंड करे आप का गला पूरी तरह सूख चुका हो। यहां तक कि आप की आंखे भी सूख चुकी हों। ऐसे में आप क्‍या करेंगे। ये कोई नई समस्‍या नही है सफर के दौरान कई लोग इस समस्‍या से गुजर चुके हैं। जब आप प्‍लेन में सफर करते है तो एक प्रेशराइज्‍ड केबिन में बैठते हैं। जबकि यात्रियों के लिए फ्रेश ऑक्‍सीजन जरूरी होती है। किसी भी एयरक्राफ्ट का सर्कुलेशन सिस्‍टम ऐसा बनाया जाता है जिसमें लोग आसानी से सांस ले सकें। बाहर से हवा लेकर उसे अंदर बैठे यात्रियों के सांस लेने योग्‍य बनाया जाता है। 35000 फिट की ऊंचाई पर दस से बीस प्रतिशत ह्यूमेडिटी ही बचती है। कई लोगों को एयर ट्रेवल बहुत स्‍ट्रेसफुल हो जाता है। जब आप के आस पास की हवा सूखी होती हैं तो आप की आंखें, नाक, मुंह और गला भी सूखने लगता है। ऐसे में आप को भी प्‍यास लगने लगती है और आप डिहाईड्रेट महसूस करने लगते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *