पांच घण्टे के रेस्कयू ऑपरेशन के बाद नहर से निकली खण्ड शिक्षा अधिकारी की कार, चालक की मौत

धनौरी  ।
धनौरी के समीप दौलतपुर गाँव के पास गंग नहर में गिरी उपखण्ड शिक्षा अधिकारी की कार को पांच घन्टे से ज्यादा चले रेस्क्यु आपरेशन के बाद गंगनहर से निकाल लिया गया। वहीं कार के अंदर चालक मुकेश का शव भी मिला है। शव का पंचनामा भर हरिद्वार पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया।
शुक्रवार देर शाम मुकेश जो कि हरिद्वार की ओर जा रहा था दौलतपुर गाँव के समीप सामने से आ रहे ट्रक को बचाने के चक्कर मे गाड़ी समेत नहर में जा गिरा ।

 

 

कार भगवानपुर के उपखण्ड शिक्षाधिकारी कुंदन सिंह की थी और उस गाड़ी को उनका चचेरा भाई मुकेश उम्र 40 वर्ष पुत्र रणधीर सिंह निवासी सराय ज्वालापुर चला रहा था और कुंदन सिंह पीछे अपने एक मित्र जोकि ग्राम विकास अधिकारी है उनकी कार में आ रहे थे। कार नहर में गिरने के बाद कलियर थानाध्यक्ष देवराज शर्मा व धनौरी पुलिस चौकी प्रभारी रणजीत सिंह तोमर के नेतृत्व में पुलिस ने शुक्रवार रात 9 बजे तक रेस्क्यू आपरेशन चलाया। लेकिन अंधेरा होने के कारण सफलता हाथ नही लगी थी।
शनिवार आज सुबह आठ बजे एक बार फिर पुलिस ने एसपी देहात मणिकांत मिश्रा व धनौरी चौकी प्रभारी  रणजीत सिंह तोमर के नेतृत्व में एसडीआरएफ व् जल पुलिस की टीम  ने संयुक्त रूप से रेस्क्यू आपरेशन चलाया। पांच घन्टे चले रेस्क्यू आपरेशन के बाद  पुलिस ने गंगनहर में समाई कार व् कार के अंदर फंसे मुकेश कुमार के शव को बाहर निकालने में सफलता पाई।इस बावत धनौरी चौकी प्रभारी रणजीत सिंह  तोमर ने बताया कि मृतक के शव का पंचनामा भरकर पीएम के लिये हरिद्वार के सरकारी अस्पताल भिजवा दिया है। मृतक के परिजनों की और से इस मामले में अभी तक पुलिस को कोई तहरीर नही दी गई है।