शहीदों की शहादत पर राजनीति कर रही भाजपा : आशीष

हरिद्वार। हम शहीदों की शहादत पर राजनीति नहीं करते लेकिन बताना भी जरूरी है कि देश की जनता ने सरदार मनमोहन सिंह जी जैसे सुलझे हुए विद्वान प्रधानमंत्री को नकार कर 2014 में देश की बागडोर मोदी जी को इस विश्वास और उम्मीद के साथ सौंपी थी कि देश उनके हाथों में सुरक्षित रहेगा हमारे जवानों के सर अब नहीं काटे जाएंगे खुद मोदी जी सीमा पर जाकर दिवाली होली मनाते रहे लेकिन जब सीआरपीएफ के जवानों को कश्मीर शिफ्ट करने के लिए हवाई सुविधा मांगी तो उसका जवाब तक वापस नहीं दिया बीएसएफ ने पत्र लिखकर मिनिस्ट्री आफ होम अफेयर्स से केवल एक विमान की मांग की थी तो गृह मंत्रालय ने यह लिखकर रिजेक्ट कर दी कि इसकी कोई आवश्यकता नहीं है प्रधानमंत्री जी ने खुद की सुरक्षा के लिए दुनिया का सबसे महंगा वह बीआईपी प्लेन खरीदा है जो सिर्फ अमेरिका के राष्ट्रपति के पास है रिटायर्ड मेजर जनरल जीडी बक्शी ने खुद कहा कि सरकार हमें नाली का कीड़ा समझती है क्योंकि मरने वाले आम आदमी के किसानों के बेटे होते हैं सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ता फिर भी आज पूरा देश पूरा विपक्ष सब विवाद भूलकर मोदी जी के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है परंतु मोदी जी केवल बीजेपी के साथ हैं जब हमारे जवानों के उनके परिवारों को उनके साथ की सबसे ज्यादा जरूरत थी तो मोदी जी उत्तराखंड के कार्बेट पार्क की शूटिंग रेंज में शूटिंग कर रहे थे उसके बाद भी कभी ट्रेन को रवाना करने के नाम पर और महाराष्ट्र में आवास योजना के नाम पर वोट मांग रहे थे एक और हिंदू जांबाज़ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ केरल में वोट मांग रहे थे उसी दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कर्नाटक में राम मंदिर बनवाने की घोषणा कर रहे थे 70 सालों में कांग्रेस ने रा आईबी ब्लैक कोबरा ऑपरेशन पवन कमांडो सर्जिकल स्ट्राइक कमांडो जैसे जो खतरनाक दस्ते तैयार किए थे उनकी बहादुरी के कारनामों पर भी यह सरकार अपना हक जता रही है आज हमारी सेना पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम है यह भाजपा के शासनकाल में ही तैयार नहीं हुई है आज भी विवादास्पद बफर स्टॉक जिसके दम पर 1999 में कारगिल युद्ध जीता था वह जवानों की पहली पसंद है कांग्रेस पार्टी चुनाव कि नहीं आज के और भौजी परिवारों के मनोबल को ऊंचा उठाने की नीति पर कार्य कर रही है लेकिन भाजपाई आईटी सेल ने सोशल मीडिया पर चिता की आग ठंडी होने से पहले ही एडिट किए हुए नकली फोटो वीडियो की बाढ़ सी लगा दी है इस घृणित राजनीति का घोर विरोध करते हैं