वृद्धा की गला दबाकर हत्या

अलीगढ़ । थाना गांधी पार्क क्षेत्रार्न्तगत मोहल्ला डोरी नगर में पुलिस चौकी से चंद कदमों की दूरी पर देर रात्रि एक वृद्धा की हत्या कर चोर लाखों रूपये का माल ले कर फरार हो गये। सोमवार की सुबह लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई और इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दे दी। सूचना मिलते ही एसपी सिटी, सीओ द्वितीय समेत थाना प्रभारी मय फोर्स फोरैसिक टीम के घटनास्थल पर पहुंच गये और आस-पास के लोगों से घटना के बारे में जानकारी करते हुये पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम गृह भिजवा दिया है। पुलिस ने चोरी के बारे में साफ इंकार किया है।
डोरी नगर की रहने वाली 67 वर्षीय भगवान देवी पत्नी नत्थूलाल अपने बेटे सत्यप्रकाश व पुत्रवधू गीता देवी और 18 वर्षीय नातिनी बबली के साथ रहती है। कुछ दिन पूर्व सत्यप्रकाश को सांड़ ने रौंदकर घायल कर दिया था। जिसका उपचार सासनीगेट स्थित निजी नर्सिगं होम में चल रहा है। रविवार की रात्रि गीता अपने पति के पास अस्पताल में खाना लेकर गई थी। घर में बबली अपनी दादी भगवान देवी के पास रात्रि में खाना खाकर सोई थी। रात्रि में चोरी करने के उद्देश्य से चोर घर में घुस गये और भगवान देवी की गला दबाकर हत्या कर दी गई। परिजनों का आरोप है कि घर में से सोने-चांदी के जेवरात समेत कुछ नगदी ले गये। सोमवार की सुबह सूचना पर पहुंची पुलिस ने वृद्धा की हत्या की जांच करते हुये उसके शव को पोस्टमार्टम गृह भिजवा दिया है।

इस सबंध में थाना प्रभारी धीरेन्द्र शर्मा ने बताया कि मृतका के परिजनों की तहरीर के आधार पर अज्ञात हत्यारों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर मामले की गहनता से पुलिस जांच कर रही है। उनका कहना है कि वृद्धा की हत्या के मूल कारणों का पता पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद पता चल पायेगा। थाना प्रभारी के अनुसार घर में से कोई सामान चोरी नहीं गया है, तथा हत्या का खुलासा अति शीघ्र दिया जाएगा।