आदेश का पालन न करने वालो के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई: डीएम

हरिद्वार।

सचिव उत्तराखंड शासन आर मीनाक्षी सुंदरम निदेशक माध्यमिक शिक्षा प्रारंभिक शिक्षा उत्तराखंड देहरादून को कोरोना वायरस संबंधित निर्देश देते हुए बताया कि संक्रमण का विश्व भर में आपदा के रूप में प्रकोप फैल जाने तथा इससे रोकथाम बचाव के दृष्टिगत छात्र-छात्राओं की सुरक्षा के निमित्त निजी शिक्षण संस्थाओं के संबंध में दिशा निर्देश अनुपालन कराए जाएं जिस ने बताया कि केवल कक्षा 9 एवं 11 की गृह परीक्षाओं की अनुमति प्रदान की जाती है कक्षा 8 तक की कक्षाएं पूर्ण रूप से बंद रहेंगी तथा कक्षा 8 तक के छात्र-छात्राओं को पूर्व के मूल्यांकन के आधार पर प्रोन्नत उत्तरण किया जाएगा कतिपय निजी विद्यालयों में अध्यापकों को उपस्थित होने को कहा जा रहा है जो उचित नहीं है केवल परीक्षा ड्यूटी वाले अध्यापक ही स्कूल में उपस्थित होंगे अन्य अध्यापक स्कूल में उपस्थित नहीं होंगे जो पूर्ण रूप से बोर्डिंग स्कूल है पूर्व की तरह संचालित किए जा सकते हैं परंतु छात्रों को संपूर्ण रूप से क्यूरेटेक यूरिनेशन में रखेंगे बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर यथासंभव प्रतिबंधित रखा जाएगा यदि उनके कर्मचारी बाहर से आते हैं तो उनको सैनिटाइजर से हाथ धोने के उपरांत ही अंदर प्रवेश की अनुमति दी जाएगी बोर्डिंग स्कूल के द्वारा अपनी छात्र-छात्राओं को विदेश भ्रमण नहीं कराया जाएगा ऐसे स्कूल जिनमें रेजिडेंशियल के साथ-साथ डे स्कूल भी संचालित हो वह अन्य डे स्कूलों की तरह पूर्णतया बंद रहेंगे सचिव शासन द्वारा जारी इस जिओ के अनुपालन हेतु जब जिलाधिकारी श्री रविशंकर से बात की गई तो उन्होंने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि सभी विद्यालयों को इन निर्देशों का पालन करना अनिवार्य है यदि कोई कॉलेज स्कूल निजी संस्था ऐसा आदेश का पालन करता नहीं मिला तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।