जनपद पुलिस मुख्यालय को आर एस एस ने भेंट किया सैनिटाइजर बूथ

 

हरिद्वार।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरिद्वार द्वारा पुलिस मुख्यालय आने-जाने वालों को सेनेटाइज करने के लिए सेनेटाइजर बूथ भेट किया गया है। इस बूथ में सेंसर के माध्यम से प्रत्येक आने-जाने वाला व्यक्ति सेनेटाइज होकर निकलेगा। 5 से 10 सैकेंड में सेनेटाइजर के छिड़काव से बाहर से आने वालों को सेनेटाइज होना जरूरी होगा।
आरएसएस के क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख पदम ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस. को सेनेटाइजर बूथ भेट किया।
इस अवसर पर आरएसएस प्रचार प्रमुख पदम् जी ने कहा कि पुलिस अपने कर्तव्य का पूर्ण निष्ठा से निर्वहन कर रही है। सरकार के आदेशों का पालन कराने के लिए पुलिस दिन-रात एक कर रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस की भूमिका इस समय एक अभिभावक के रूप में है, अभिभावक पहले अपने बच्चों को समझाते है, फिर डांटते है और यदि न माने तो पीटाई करते है। ठीक उसी प्रकार पुलिस लॉक डाउन का पालन कराने के लिए पब्लिक को प्यार से समझा-बुझ भी रही है और न मानने वालो पर डंडा भी सख्त कर रही है। उन्होंने कहा कि वास्तव में पुलिस ऐसा हमारे ही प्राणों को बचाने के लिए कर रही है। पुलिस के कार्य की जितनी सहराना की जाएं वह कम होगा। पुलिस के इस कर्तव्य में जनता को भी पूरा सहयोग करना चाहिए। लॉक डाउन के नियमो का पालन करते हुए अपने घर परिवार से दूर अपनी ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों का आभार व्यक्त करना चाहिए। उन्होंने कहा कि वास्वत में सड़कों पर पुलिस तैनात है इसलिए आम जनता घरों में निश्चिंत रह रही है। उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में पुलिस अभिभावक की,सफाई कर्मी माँ की और डॉक्टर भगवान की भूमिका निभा रहे है। आज इन्ही के जजबे से हम कोरोना से जीत हासिल कर सकते है।
इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस. ने आरएसएस द्वारा एसएसपी कार्यालय पर सेनेजाइजर बूथ भेट किये जाने पर कार्यकताओ का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि पुलिस का काम भी पब्लिक के सहयोग से ही सम्भव है। उन्होंने कहा कि आज समाज का हर वर्ग पुलिस को व्यवस्था बनाने में पूर्ण सहयोग कर रहा है।
इस के उपरांत आरएसएस कार्यकर्ताओ द्वारा भगत सिंह चौक ,चंद्राचार्य चौक आदि क्षेत्र में ड्यूटी कर रहे पुलिसकर्मियों का पटका पहनकर स्वागत किया व आभार जताया।
इस मौके पर जिला संघ संचालक कुँवर रोहिताश, विभाग प्रचारक शरद कुमार, अमित शर्मा, अमित त्यागी, मोनू त्यागी, नितिन चौहान आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।