पश्चमी बंगाल जाने वाले यात्रियों ने आरएसएस आभार जताया

हरिद्वार।
लव डाउन से पूर्व हरिद्वार घूमने आए पश्चिम बंगाल के तीर्थ यात्री नॉक डाउन के चलते हरिद्वार में फस गए थे पश्चिम बंगाल आर एस एस के कार्यकर्ताओं द्वारा हरिद्वार r.s.s. कार्यालय से संपर्क कर इनकी जानकारी दी गई जिसके बाद आर एस एस के विभाग प्रचारक शरद कुमार ने होटल माधव में ठहरे तीर्थयात्रियों से जाकर मुलाकात की और उन्हें हरिद्वार में हर संभव मदद दिए जाने का आश्वासन दिया था 23 मार्च से ही लगातार इन लोगों को सुबह का दूध दोनों टाइम का खाना नाश्ते के लिए बिस्किट रस आदि प्रतिदिन उपलब्ध कराए गए इन यात्रियों ने बताया कि इनके परिचय के और भी कई लोग हरिद्वार में फंसे हुए हैं। यह ऐसे लोग है जो खुद खाना बना सकते थे। ऐसे लोगो को आरएसएस ने कच्चा राशन, मसाले तथा प्रतिदिन कच्ची सब्जी देने का प्रबंध कराया गया। साथ ही इन यात्रियों के वापस भेजने के लिए प्रशासन व पशिचम बंगाल के कार्यकर्ताओं से लगातार संपर्क बनाए रखा। रविवार की रात यह यात्री पर गंतव्य को रवाना हो गए। वापस जाते समय पशिचम बंगाल के यात्री भावुक हो गए। उन्होंने वापसी जाने पर खुशी जाहिर करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरिद्वार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आरएसएस के सहयोग से हमे लॉक डाउन के दौरान कभी ये नही लगा कि वह यहां फसे हुए है। उन्होंने कहा कि हरिद्वार के कार्यकर्ताओं ने हमारा ध्यान परिवार के सदस्यों की तरह रखा है।