हरिद्वार एक नज़र…संत को सताई कुम्भ मेला विकास कार्यो की चिंता, मनोनयन, सेवादल ने ज्ञापन दिया

 

 

हरिद्वार।
महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष ने जल संस्थान के अधिशासी अभियन्ता से लगातार बढ$ती पानी की किल्लत को लेकर जल्द व्यवस्था सुधारने की मांग की है। सुनील सेठी ने प्रैस को जारी बयान में बताया कि लगातार पड$ रही भीषण गर्मी में पानी की सप्लाई लगातार घटती जा रही है। पानी की किल्लत से कई इलाकों में नगरवासी परेशान हैं। लोगों को पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है। सिर्फ एक दो घण्टे पानी आने के बाद सप्लाई बंद हो जाती है। पानी की कमी के चलते महिलाआें को घर के काम निबटाने में भारी दिक्कतों सामना करना पड$ रहा है। दूसरी तरफ कई इलाकों में जहां लोगों को पानी मिल भी रहा है तो वहां नलों से गन्दा पानी आने की शिकायतें लगातार सामने आ रही हैं। जल संस्थान की अधूरी तैयारियों की वजह से शहर को जल संकट जैसी स्थिति का सामना करना पड$ रहा है। समस्या दूर किये जाने को लेकर उचित उपाय न करने की वजह से ऊंचे इलाको में अतिरिक्त मोटर की व्यवस्था न होने की वजह से समस्या लगातार बढ$ती जा रही है। गर्मी की शुरूआत में यह आलम है। यदि व्यवस्थाआें में सुधार नहीं हुआ तो समस्या का बढ$ना तय है। नगरवासियों को पानी के लिए भटकना पड$ेगा। जिला प्रशासन व जल संस्थान के अधिकारियों को जल्द से जल्द व्यवस्था सुधारने के उपाय करने चाहिए।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-
कांग्रेस सेवा दल के पदाधिकारियों ने प्रदेश अध्यक्ष राजेश रस्तोगी के नेतृत्व में नगर कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी को ज्ञापन पत्र प्रेषित कर विगत सप्ताह उत्तरी हरिद्वार के भाजपा पार्षद की आेर से कांग्रेस कार्यकर्ता नितिन यादव के विरुद्ध दर्ज कराए गए मुकदमे को खारिज किए जाने की मांग की है। कोतवाली प्रभारी ने कांग्रेस सेवा दल के पदाधिकारियों को निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर कांग्रेस सेवा दल के प्रदेश अध्यक्ष राजेश रस्तौगी ने कहा कि सत्ता के नशे में भाजपा नेताआें ने राजनीतिक मर्यादाआें की सभी सीमाएं पार कर दी हैं। विरोधी दलों के कार्यकर्ताआें पर मुकदमे दर्ज कराना भाजपाइयों की एक आदत बन गई है। कहा कि यदि नितिन यादव के विरुद्ध दर्ज मुकदमा यदि खारिज नहीं हुआ तो कांग्रेस सेवादल जिला पुलिस मुख्यालय पर लॉक डाउन के नियमों का पालन करते हुये धरना देगा। कांग्रेस कार्यकर्ताआें के उत्पीड$न को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पूर्व पालिका अध्यक्ष स्वामी सतपाल ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि लोकतंत्र की मर्यादा को भूल चुकी भाजपा विपक्ष को दबाने के लिए कार्यकर्ताआें के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज कराने की नीति पर चल रही है। देश भर में चल रही भाजपा की इस नीति को लोग अच्छी तरह समझ चुके हैं। कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता नितिन यादव के साथ मजबूती के साथ खड$ा है। ज्ञापन देने वालो में सत्यनारायण शर्मा, प्रदेश संयुक्त सचिव राहुल सूरी, महानगर अध्यक्ष मोनिक धवन, डा. जमशेद अली आदि मौजूद रहे।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—
मनोनीत
कांग्रेस नेत्री उषा शर्मा को महानगर कांग्रेस कमेटी में महासचिव तथा प्रमोद कुमार श्रीवास्तव को नगर कांग्रेस कमेटी ज्वालापुर में सचिव मनोनीत किया गया है। वहीं भाजपा छोड$कर कांग्रेस में आए कैश खुराना को ब्लॉक महासचिव तथा अमन अरोड$ा को ब्लॉक सचिव मनोनीत किया गया। धीरवाली स्थित ज्वालापुर नगर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष यशवंत सैनी के कार्यालय पर कार्यकर्ताआें ने शॉल आेढ$ाकर व फूलमालाएं पहनाकर उषा शर्मा व प्रमोद कुमार श्रीवास्तव का स्वागत किया। इस दौरान विनोद कश्यप, सुबोध बंसल, अजनीश सिखोला, आरबीएल वर्मा, विजय सैनी, समक्ष कौशिक, समर्थ वशिष्ठ, महानगर अध्यक्ष संजय अग्रवाल, संजय पालीवाल ने कार्यकर्ताआें को फूलमाला पहनाकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अनिल भास्कर, हिमांशु बहुगुणा, इंजीनियर रवि बहादुर आदि उपस्थित रहे।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—
निरंतर चलता रहेगा सेवा अभियान
भेल श्रमिक नेता राजवीर चौहान द्वारा चलाए जा रहे सेवा—सहायता कार्य 4२वें दिन भी जारी रहे। गुरूवार को बारह सौ भोजन पैकेट तैयार कर निर्मल बस्ती निकट शिवालिक नगर, नवोदय नगर रोशनाबाद, ज्वालापुर, सुभाष नगर निकट डीपीएस भेल, लेवर कालोनी सेक्टर- 5, विष्णु लोक कालोनी में चिन्हित जरूरतमन्द लोगो को वितरित किए गए। राजवीर सिंह ने बताया कि इसके अतिरिक्त कार्यालय पर भी भेल उपनगरी व आसपास के जरूरतमंदों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-
कोरोना संक्रमण से बचाव में प्रभावी है आयुर्वेद—महेंद्र राणा
भारतीय चिकित्सा परिषद उत्तराखंड के नवनियुक्त सदस्य डा. महेंद्र राणा ने कहा कि कोरोना के ठीक होने वाले मरीजों से संक्रमण फैलने का किसी भी तरह का खतरा नहीं रहता है। इसलिए ठीक होकर आने वाले मरीजों का हमें जोरदार तरीके से स्वागत करना चाहिए। उनके प्रति नकारात्मक भाव नहीं रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि थोड$ी सी एहतियात रख कर कोरोना के संक्रमण से बचा जा सकता है। डा. राणा ने बताया कि गर्मी के सीजन में हमें फ्रिज का पानी पीने से बचना चाहिए। सामान्य तौर पर गुनगुना पानी अथवा ठंडा पानी पीना है तो घड$े अथवा सुराही में रखा गया पानी पीना चाहिए। क्योंकि फ्रिज का पानी हमारी श्वसन नली को प्रभावित करता है और श्वसन नली में दिक्कत आने पर कोरोना फैलने का ज्यादा खतरा रहता है। गुरूवार को भारतीय चिकित्सा परिषद के सदस्य चंद्रशेखर वर्मा और चिकित्सकों के संगठन नीमा की हरिद्वार इकाई के अध्यक्ष डा. राजीव चौधरी के साथ पत्रकारों से वार्ता करते हुए महेंद्र राणा ने कोरोना के संक्रमण से बचाव और इतिहास के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने बताया कि कोरोना एक एेसी महामारी के रूप में सामने आया है। जिसके संक्रमण का प्रभाव अन्य संक्रमण वाले कीटाणुआें से बहुत ज्यादा है। उन्होंने कहा कि हम खाने—पीने और सरकार द्वारा तय किए गए एहतियात का पालन करके अपने आपको कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से बचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमें बासी खाना खाने से बचना चाहिए। फ्रिज का ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए और शारीरिक दूरी का पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए प्रभावी कदम उठाए हैं। लेकिन इसका सही बचाव हमारे अपने हाथ में है। हम जितनी सावधानी बरतेंगे उतना ही कोरोना से बचे रहेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना की अभी तक कोई दवा इजाद नहीं हुई है। लेकिन अभी तक के अनुभव के आधार पर कहा जा सकता है कि कोई भी वायरस हो आयुर्वेद में मनुष्य को उससे बचे रहने के लिए पर्याप्त मदद की है। इसीलिए आयुर्वेदिक जड$ी बूटियों से बने थ और अन्य दवाइयों का सेवन करके हम अपने शरीर की इम्युनिटी को इतना बढ$ा सकते हैं कि कोरोना का डटकर मुकाबला किया जा सके। उन्होंने आयुर्वेद के उत्पादों का लगातार सेवन करने की सलाह दी। डा. राजीव चौधरी ने कहा कि कोरोना का कहर पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है। एेसे में दुनिया भारत की तरफ ही देख रही है। उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत निश्चित रूप से कोरोना पर विजय पाएगा और हम कोरोना को हरा देंगे। डा. चंद्रशेखर वर्मा ने कहा कि आयुर्वेद को अपनाकर कोरोना वायरस को हराना बहुत आसान है। उन्होंने बताया कि चिकित्सकों की आेर से भी कोरोना से बचाव के लिए लोगों को जागरूक करने हेतु व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है।
बाक्स…
डा. महेन्द्र कोशिक ने बताया कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए कई जडी बूटियों का प्रयोग किया जाता है, कोरोना से बचाव के लिए प्राचीन आयुर्वेद ग्रंथो में उल्लेखित जडीबूटियो से क्वाथ तैयार किया गया है। जिसमें मधुयष्टि, अश्वगंधा, गिलोय आदि से तैयार किया गया है। तुलसी ड्राप, और आयुर्वेदिक औषधियो से कैप्सूल तैयार किये गए है। एक हर्बल नीम सौप तैयार की गई है। उन्होंने बताया कि इन सभी वस्तुआे की किट तैयार कर बांटी जा रही है। बताया कि इस सभी चीजो में से एक का भी सेवन करने से 24 घण्टे मानव शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बनी रहती है। एक दिन में किसी एक वस्तु का एक बार ही प्रयोग करे। सभी का एक ही दिन में करने पर शरीर में गर्मी अधिक बढ सकती है जो उचित नही है।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—

बाबा कामराज की 3२३वीं जयंती आज

बाबा कामराज की 3२३वीं जयंती के अवसर पर शुक्रवार को मंदिर में विशेष अनुष्ठान का आयोजन किया जाएगा। प्रतिवर्ष धूमधाम से आयोजित किए जाने वाले जयंती समारोह को कोरोना वायरस के चलते इस वर्ष सूक्ष्म रूप से ही आयोजित किया जाएगा। अनुष्ठान के दौरान देश दुनिया को कोरोना वायरस के प्रकोप से बचाने के लिए विशेष प्रार्थना की जाएगी। उन्होंने कहा कि बाबा कामराज अनेक सिद्धियों के ज्ञाता तथा महान पुरूष थे। बाबा तोतापुरी महाराज, स्वामी रामकृष्ण परमहंस, वामाखेपा महाराज, बाबा नागपाल, स्वामी दतियावाले महाराज, स्वामी दतियावाले जैसे अनेक सिद्धपुरूषों को बाबा कामराज महाराज ने दीक्षित किया। बाबा कामराज महाराज ने अंतिम दीक्षा आल्हा को दी। बाबा कामराज द्वारा स्थापित श्री दक्षिण काली मंदिर की महिमा एेसी है कि चमत्कार भी यहां नमस्कार करते हैं। कोई व्यक्ति कितना ही परेशान क्यों न हो, मंदिर में आकर असीम शांति का अनुभव करने लगता है। श्री दक्षिण काली मंदिर में आने वाले प्रत्येक साधक को माई की कृपा के साथ बाबा कामराज का आशीर्वाद भी प्राप्त होता है। मंदिर में आने वाले साधक को मां दक्षिण काली व बाबा कामराज से कुछ मांगना नहीं पड$ता, साधक द्वारा निश्छल भाव से की गयी आराधना से ही मां दक्षिण काली व बाबा कामराज की कृपा से साधक के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं तथा सुख व समृद्धि की प्राप्ति होती है। इस दौरान स्वामी राधाकांताचार्य, स्वामी अनुरागी महाराज, स्वामी लालबाबा, आचार्य पवनदत्त मिश्र, पंडित प्रमोद पांडे, पंडित शिवकुमार शर्मा, अंकुश शुक्ला आदि मौजूद रहे।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—
संत को सताई कुम्भ मेला विकास कार्यो की चिंता

श्री पंचायती अखाड$ा निर्मल के अध्यक्ष महंत ज्ञानदेव सिंह महाराज ने कहा कि कुंभ मेला शुरू होने का समय नजदीक आता जा रहा है। एेसे में सरकार को मेले की तैयारियां तेज करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते कुंभ मेले से संबंधित निर्माण कार्य बाधित हुए हैं। ऐसे में राज्य सरकार को रणनीति बनाकर कुंभ मेले के विकास कार्यो में तेजी लानी चाहिए। विकास कार्यो को गति देने के लिए अलग से व्यवस्थाएं बनायी जाएं, जिससे कार्य समय पर पूरे हो सकें। महाकुंभ मेला सनातन धर्म व करोडो श्रद्धालुओं की आस्था का मुख्य पर्व है। कुंभ में संत महापुरूषों व भक्तों को किसी प्रकार की असुविधाएं ना हों इसलिए आधे अधूरे निर्माण कार्यो में तेजी लाने की आवश्यकता है। कोरोना की स्थिति सामान्य होने पर अखिल भारतीय अखाड$ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी महाराज व महामंत्री महंत हरिगिरी महाराज के साथ गहनता से विचार विमर्श कर दिव्य व भव्य कुंभ संपन्न कराने पर चर्चा की जाएगी। उन्होंने कहा कि मां गंगा के आशीर्वाद व संत महापुरूषों के तप बल से देश कोरोना मुक्त होगा और 2021 का महाकुंभ दिव्य व भव्य तथा आलोकिक रूप से संपन्न होगा। इस अवसर पर सरदार रमणीक सिंह, महंत खेमसिंह, महंत सतनाम सिंह, महंत निर्मल सिंह, संत जसकरण सिंह, संत रोहित सिंह, संत तलविन्दर सिंह, महंत सुखमन सिंह आदि संत गण भी मौजूद रहे।
-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-—-