युवक ने गंगनहर में छलांग लगा दी

 

हरिद्वार।
रानीपुर कोतवाली क्षेत्र में रहने वाले युवक का अपने बड़े भाई से किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। झगड़े के बाद बहन के घर कनखल जाने की बात बोलकर मंगलवार की रात को दोस्त से लिफ्ट लेकर नया हरिद्वार पुल पर पहुंचा। पुल पर पहुंचते ही युवक ने गंगनहर में छलांग लगा दी। दोस्त ने मामले की जानकारी पुुलिस कंट्रोल रूम को दी। ज्वालापुर पुलिस ने मौके पर पहुंची और नहर में कूदे युवक की तलाश की। अंधेरा व बरसाती जल होने के कारण पुलिस व गोताखोरों की मदद नहंी मिल सकी। नहर में कूदे युवक का बड$ा भाई झगड$ा होने की बात बोल रहा था।
मंगलवार की रात विशाल दीक्षित (23) पुत्र सतीश चन्द्र दीक्षित निवासी प्रतापपुर काशीपुर (हाल शिवालिक नगर रानीपुर) अपने भाई से किसी पर झगड़ा हो गया। झगड़े के बाद उसने दोस्त अनुराग श्रीवास्तव निवासी शिवालिकनगर रानीपुर को फोन कर कहा कि उसको कनखल में बहन के घर जाना है। अनुराग स्कूटी पर विशाल दीक्षित को छोड$ने के लिए शिवालिकनगर से जब प्रेमनगर आश्रम पुल पर पहुंचा तो विशाल दीक्षित ने अनुराग से उतार कर चले जाने की बात बोली। वह स्कूटी रोक कर विशाल दीक्षित को उतार कर जाने के लिए वापस मुड$ा तो उसने गंगनहर में छलांग लगा दी। एकदम हुई घटना से अनुराग श्रीवास्तव घबरा गया और पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी दी। कंट्रोल रूम से सूचना प्रसारित होते ही ज्वालापुर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। अनुराग से घटना की जानकारी लेने के बाद गोताखोर टीम को बुलाकर युवक की तलाश करायी गयी। अंधेरा व बरसाती पानी आने से पुलिस को सफलता नहीं मिली। पुलिस ने नहर में कूदे युवक के परिजनों को जानकारी दी। जल पुुलिस कॢमयों ने बुधवार को सर्च अभियान चलाया पर विशाल का कुछ पता नहीं चल सका।
कोतवाली ज्वालापुर प्रभारी निरीक्षक प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि शिवालिक नगर रानीपुर में रहने वाले विशाल दीक्षित ने बड़े भाई से झगड़ा होने के बाद अपने दोस्त के साथ स्कूटी से पहुंचा पुल से गंगनहर में छलांग लगा दी। गंगनहर में डूबे युवक की जल पुुलिस कॢमयों से तलाश करायी पर कुछ पता नहंी चल पाया। सिडकुल स्थित फार्मा कंपनी में काम करता था।