कोरोना संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए इंडियन रेडक्रास चला रही जागरुकता अभियान

हरिद्वार।
कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए इंडियन रेडक्रास सोसायटी क्षेत्र में जन जागरुकता अभियान चला रही है। अनलाक के बाद कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सोसायटी आम आदमी को बचाव के लिए जागरुक कर रही है। जिलाधिकारी सी रविशंकर, मुख्य विकास अधिकारी विनीत सिंह तोमर एवं अपर जिलाधिकारी केके मिश्रा के निर्देशन पर रेडक्रास सोसायटी का अभियान चलाया जा रहा है।
इंडियन रेडक्रास सोसायटी के सचिव डा. नरेश चौधरी के संयोजन में लाक डाउन प्रारम्भ होने से अब अनलाक-3 में रेडक्रास के स्वयंसेवी बढ$ चढ$कर मानवता की सच्ची सेवा कर रहे है। इसी क्रम में इण्डियन रेडक्रास सोसाइटी के स्वयं सेवियों ने बहादराबाद विकास खण्ड के लालढांग ग्रामीण क्षेत्रों में जनजागरण अभियान चलाया जा रहा है। जिलाधिकारी के निर्देशन में ग्राम ढडियान वाला,मीठीबेरी,मगोलपुरा,रसूलपर बड$ा,रसूलपुर छोटा, आर्यनगर गांव में जाकर रेडक्रास स्वयं सेवियों ने विशेष रूप से कोरोना वायरस महामारी से बचाव एवं रोकथाम, डेंगू तथा मलेरिया से बचाव करने के लिए जनमानस को जागरूक किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र के निवासियो कों दो गज की दूरी रखना, मास्क अनिवार्य रूप से लगाना, हाथों को बार-बार धोना, बुखार खॉसी, जुखाम एवं श्वास लेने में परेशानी जैसे लक्षण होने पर चिकित्सा परिक्षण करानेे की विस्तृत जाानकारी दी जा रही है। घरों के आसपास रोजाना कम से कम एक घण्टा साफ सफाई करने के लिए भी जनमानस को प्रेरित किया। डेंगू एवं मलेरिया से विशेष रूप से बचाव हो सके। लालढांग क्षेत्र के सभी ग्राम निवासियों के लिए विशेष कैम्प पंचायत घर में चल रहा है जिसमें कोई भी सरकारी योजनाआें के अन्तर्गत मौके पर भी प्रमाण पत्र बनाये जा रहे हैं। जाति प्रमाण पत्र, स्थाई निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र हैसियत प्रमाण पत्र,चरित्र प्रमाण पत्र,उत्तर जीवी प्रमाण पत्र एवं आयुष्मान कार्ड बनवाने की सुविधा भी कैम्प में है। उक्त प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवश्यक प्रपत्र कैम्प में ले जाकर इस सुविधा का लाभ उठा रहे हैं। रेडक्रास सचिव डा. नरेश चौधरी ने बताया कि लालढांग क्षेत्र पायलट प्रोजेक्ट है जिसके तहत समय—समय पर क्षेत्रवासियों की समस्याआें का निराकरण कैम्प के माघ्यम से मौके पर ही किया जायेगा। प्रचार प्रसार में विकास देशवाल, श्रीमती पूनम, क्षेत्रीय आंगनवाडी शिल्पा रावत, क्षेत्रीय लेखपाल रामनाथ सिंह, महेश कुमार चौहान, ग्राम प्रधान जगपाल सिंह एवं प्रताप सिंह शामिल थे।