नड्डा का दावा, कृषि क्षेत्र में होने वाले है एक लाख करोड़ रुपये खर्च

देहरादून। (अमित कुमार)

केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के बीच भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने रविवार को कहा कि देश में कृषि क्षेत्र में बहुत बडा काम हो रहा है और इसमें एक लाख करोड रूपये खर्च होने वाला है। यहां बूथ समिति की एक बैठक को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा, ‘‘कृषि क्षेत्र में एक लाख करोड रूपये खर्च होने वाला है और महत्वपूर्ण बात यह है कि यह पैसा कोई कृषि अधिकारी नहीं बल्कि फामर्स प्रोडूयसर्स आर्गेनाइजेशनें खर्च करेंगी।’’ इस संबंध में उन्होंने पार्टी की उत्तराखंड इकाई के अध्यक्ष और किसान मोर्चा के अध्यक्ष से कहा कि फार्मर्स प्रोडयूसर्स आर्गेनाइजेशनें हमारी पार्टी के सहयोग से बननी चाहिए और हमारा किसान तय करे कि क्या योजना होनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘पैसा मोदीजी का होगा और खर्च किसान करेगा।’’

नड्डा ने किसानों से कहा, ‘‘इस पैसे से आप गांव में सडक बना सकते हैं, मंडी में बदलाव कर सकते हैं, प्रशीतित भंडार बना सकते हैं, अनाज का भंडार बना सकते हैं, मूल्यवर्धन करने के लिए कोई फैक्ट्री या अन्य कोई सुविधा विकसित कर सकते हैं या कृत्रिम मेधा विकसित कर सकते हैं।’’ उत्तराखंड के चार दिवसीय दौरे पर आए नडडा ने जम्मू—कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा ‘‘ गुपकर गैंग भ्रष्टाचार के मामलों के खुलने के बाद बना है लेकिन मैं आश्वासन देना चाहता हूं कि मोदी जी के राज में एक भी गुनाहगार नहीं बचेगा। ’’ कोरोना प्रबंधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए नडडा ने कहा कि जहां अमेरिका, फ्रांस और इटली जैसे ताकतवर देश महामारी के प्रबंधन में विफल हो गए वहीं मोदी ने समय रहते लॉकडाउन का साहसिक निर्णय लेकरर 130 करोड़ लोगों के जीवन को बचा लिया। इस संबंध में उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण के कुप्रंबधन के परिणामस्वरूप अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सत्ता गंवानी पडी। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कोविड-19 को लेकर देश में बडा काम हुआ जहां टेस्टिंग लैब से लेकर डेडिकेटेड अस्पताल तक भारी बढोत्तरी हुई। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन से पहले जहां देश में एक टेस्टिंग लैब थी और 1500 टेस्ट होते थे वहीं वहीं आज 1500लैब हैं जहां प्रतिदिन 10—15 लाख टेस्ट हो रहे हैं।