हत्या के मामले में 24 घण्टे बाद भी पुलिस के हाथ खाली

विनीत चौधरी

लक्सर।
बसेड़ा खादर गांव में विगत दिन पुरानी रंजिश के चलते दिनदहाड़े हुई हत्या के मामले में अभी तक पुलिस के हाथ खाली है। पुलिस की अलग-अलग चार टीमे आरोपितों की तलाश में उनके संबंधित ठिकानो पर दबिश दे रही है।

कोतवाली क्षेत्र के बसेड़ा खादर गांव में दो परिवारों में पिछले काफी दिनो से रंजिश चली आ रही थी। जिसमें एक परिवार के राजेश द्वारा कोतवाली में कई बार आरोपितों के खिलाफ शिकायते दर्ज कराई थी। किंतु पुलिस ने उक्त मामले को गंभीरता से नहीं लिया तथा आरोपितों के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई भी नहीं की थी। इसीलिए आरोपितों के हौसले बुलंद थे।

विगत दिन सोमवार को करीब 9 बजे राजेश का पुत्र दीक्षित अपने ममेरे भाई आशीष उर्फ जैकी पुत्र रविंद्र के साथ बहादरपुर अड्डे से बाइक पर अपने गांव वापस लौट रहा था। तभी गांव के बाहर पहले से ही घात लगाए खड़े दूसरे परिवार के शिवपाल आदि ने गांव में घुसते ही शिव मंदिर के पास बाइक सवार दोनों युवकों के ऊपर तमंचे से ताबड़तोड़ गोलियां चला दी थी। जिसमे गोली लगने से आशीष की मौके पर ही मौत हो गई थी। जबकि दीक्षित गंभीर रूप से घायल हो गया था। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पांच घंटों की भारी मशक्कत के बाद शव को ग्रामीणों के कब्जे से लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था। मौके पर उपस्थित मृतक के परिजन व कुछ अन्य ग्रामीण हत्या आरोपियों को शीघ्र ही गिरफ्तार किए जाने की मांग कर रहे थे।

दिनदहाड़े हुई हत्या से जहां ग्रामीणों में भय व्याप्त है। वही उक्त घटना पुलिस का सिरदर्द बनी हुई है। पुलिस की अलग-अलग चार टीमें हत्या आरोपियों की तलाश कर रही है। तथा उनके संबंधित ठिकानों पर दबिश दे रही है। पुलिस ने पूछताछ के लिए गांव के ही दो लोगो को हिरासत में ले रखा है। पुलिस दावा कर रही है कि शीघ्र ही हत्या आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।