सदन में गूंजा पुरानी पेंशन का मुद्दा

राज्य प्रतिनिधि

देहरादून।

उत्तराखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र के तीसरे और आखिरी दिन की कार्यवाही एक बार फिर शुरू हो चुकी है। इससे पहले बुधवार को सदन में पुरानी पेंशन का मुद्दा उठा। विपक्ष ने नियम 58 के तहत मामले को उठाया। सरकार ने कहा कि नई पेंशन योजना शुरू की है। विपक्ष ने कहा कि नई पेंशन योजना कर्मचारियों के हित में नही है।  जिसके बाद सदन दोपहर तीन बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया। इससे पहले विपक्ष ने प्रश्नकाल के दौरान कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को उनके विभागों से सम्बंधित प्रश्नों को लेकर घेरा। भाजपा के विधायक पूरन फत्र्याल ने टनकपुर जौलजीवी रोड को लेकर कहा कि आरोप गलत हुए तो राजनीति से संन्यास ले लेंगे। कहा कि मुख्यमंत्री को मामले में कार्रवाई को लेकर पत्र भेजा है।
वहीं विधानसभा सत्र के तीसरे दिन कांग्रेस के विधायकों ने पहाड़ी उत्पादों को उचित मूल्य न मिलने के विरोध में प्रदर्शन किया। विधायक मनोज रावत, काजी निजामुद्दीन, ममता राकेश, फुरकान अहमद समेत अन्य विधायक माल्टा व अन्य उत्पाद लेकर विधानसभा पहुंचे। विधानसभा के मुख्य गेट पर पुलिस ने उन्हें रोक लिया।