विकएंड पर औली रही गुलजार

देहरादून(सम्वाददाता)।

विकएंड पर दुनिया में विख्यात पर्यटक स्थल औली  में पर्यटकों की आमद रही। चटख धूप खिलने के बाद औली की वादियां और भी खूबसूरत नजर आ रही हैं। वीकेंड के चलते बड़ी संख्या में पर्यटक यहां पहुंचे। पर्यटकों ने बर्फ में खूब मौज मस्ती भी की।
औली में अच्छी बर्फबारी से पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों के चेहरे खिल गए हैं। पर्यटन व्यवसायी अजय भट्ट का कहना है कि औली में बर्फबारी होने से प्राकृतिक सुंदरता में और निखार आ गया है। नए साल के बाद से यहां धीरे-धीरे पर्यटकों की संख्या बढ़ रही है। पर्यटकों ने स्कीइंग का लुत्फ भी उठाया।
वहीं, औली में बर्फबारी के बाद पर्वतारोहण स्कीइंग संस्थान आईटीबीपी ने स्कीइंग प्रशिक्षण शुरू कर दिया है। औली में पिछले दिनों बर्फ न होने से इन जवानों को औली से करीब एक किलोमीटर दूर गोरसों में स्कीइंग गतिविधियां संचालित करनी पड़ रहीं थीं। बीते दिनों हुई बर्फबारी के बाद से आईटीबीपी के जवान औली स्लोप पर स्कीइंग का प्रशिक्षण ले रहे हैं। औली में मौजूदा समय में करीब एक फीट तक बर्फ जमी है, जिसके चलते यहां आईटीबीपी ने स्कीइंग का बेसिक कोर्स शुरू कर दिया है। बता दें कि नए साल से कुछ दिन पहले औली में बर्फबारी हुई थी। लेकिन बर्फ जम नहीं पाई। इसके चलते यहां नए साल पर पहुंचे पर्यटक बर्फ नहीं होने से मायूस भी हुए। पर्यटकों को बर्फ देखने के लिए औली से ऊपर गोरसों जाना पड़ा। लेकिन हाल ही में औली में फिर बर्फबारी हुई थी। वहीं, जोशीमठ-औली मार्ग पर बर्फ पर पाला जमने के कारण वाहनों के फिसलने का भी खतरा बना हुआ है। कवांण बैंड से औली तक यही स्थिति बनी हुई है। उधर, बर्फबारी के कारण हनुमान चट्टी से माणा गांव तक (13 किमी) तीन दिनों से बंद बदरीनाथ हाईवे बीआरओ की टीम ने शनिवार को खोल दिया है।