मौत का शिकार हुए लोगों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा

देहरादून। पीएम नरेंद्र मोदी ने चमोली आपदा में मौत का शिकार हुए लोगों के आश्रितों को प्रधानमंत्री राहत कोष से दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की। गंभीर रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे। उत्तराखंड के प्रति पीएम मोदी का लगाव एक बार फिर नजर आया। चमोली आपदा के दौरान पीएम असम में थे। सूचना मिलने पर उन्होंने तत्काल राहत बचाव कार्य में सहयोग के आदेश दे दिए।उन्होंने मृतक आश्रितों और गंभीर रूप से घायलों के लिए आर्थिक सहायता की घोषणा भी की। पीएम राहत और बचाव कार्य के लिए गृह मंत्री अमित शाह, सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ लगातार संपर्क में रहे। अपने संबोधन में भी उन्होंने उत्तराखंड पर आए आपदा के संकट का जिक्र किया। कहा कि जो उत्तराखंड राज्य मां गंगा का उदगम स्थल है, वो आज आपदा का सामना करना रहा है। एक ग्लेशियर टूटने से वहां नदी का जल स्तर बढ़ गया है।पीएम ने कहा कि उत्तराखंड में ऐसे परिवार बहुत मुश्किल से मिलते है, जिनका कोई सदस्य सेना में न हो। उत्तराखंड के लोगों का हौसला किसी भी आपदा को मात दे सकता है। उत्तराखंड के साहसी लोगों के लिए पूरा देश प्रार्थना कर रहा है। मोदी ने आश्वासन दिया है कि केंद्र की ओर से उत्तराखंड सरकार को हरसभंव मदद दी जाएगी।  मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख सहायतामुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड सरकार की ओर से आपदा में मारे गए लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है। कहा कि बाढ़ से दोनों प्रोजेक्टों का रिकार्ड भी बह गए है, इसलिए अभी यह पता नहीं चल पाया है कि लापता लोग कहां-कहां के रहने वाले हैं।