कोरिया प्रायद्वीप को लेकर अमेरिका और रूस के बीच तनाव

मॉस्को। रुसी सेना के एक पूर्व कर्नल और सेना विशेषज्ञ ने एक रूसी अखबार को दिए इंटरव्यू में सनसनीखेज दावा करते हुए कहा है कि ‘रूस अमेरिकी तट की जमीन के नीचे परमाणु हथियार बिछा रहा’ है। दावा करने वाले विशेषज्ञ का नाम विक्तोर बरानेत्ज है। वहीं न्यूजीलैंड हेराल्ड डॉट कॉम के मुताबिक रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने भी यह दावा किया है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अमेरिकी तटरेखा पर अपनी शक्ति मजबूत कर रहे हैं।

इंटरव्यू में विक्तोर ने बताया कि युद्ध की स्थिति आने पर हम इनका विस्फोट कर सुनामी ला सकते हैं। इससे अमेरिका को भारी नुकसान का सामना करना पड़ेगा। विक्तोर ने बताया कि युद्ध की स्थिति में इन बमों में विस्फोट कर सुनामी लाई जा सकती है जिससे अमेरिका के तटीय इलाकों को भारी नुकसान होगा। विक्तोर ने स्वीकार किया कि रूस रक्षा क्षेत्र में अमेरिका से ज्यादा खर्च नहीं कर सकता, इसलिए सेना का विस्तार बढ़ाने के लिए वह उस पर दबाव डालता है। इसके अलावा अमेरिका को मात देने के लिए उसके पास न्यूक्लियर मिसाइल हैं जिनमें हवा में विस्फोट किया जा सकता है। उन्होंने दावा किया कि इससे होने वाले नुकसान का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। उन्होंने कहा कि रूस अमेरिका को ऐसा ‘जवाब’ देने की तैयारी कर रहा है जिसकी वजह से हमले की स्थिति में दोनों देश बर्बाद हो सकते हैं। उन्होंने बताया, ‘हमारा यह जवाब परमाणु बम हैं जो उसकी (अमेरिका) कार्यप्रणाली को इस तरह प्रभावित करेंगे कि कोई कंप्यूटर उसे कैलकुलेट नहीं कर सकता।’

आपको बता दें कि कोरिया प्रायद्वीप को लेकर अमेरिका और रूस दोनों के बीच तनाव की स्थिति पैदा हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *