कावड़ यात्रा प्रारम्भ होने से पहले सभी आवश्यक सुविधाएं की जाये सुनिश्चित- सीएम योगी आदित्यनाथ

लख़नऊ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने श्रावण मास में होने वाली काँवड़ यात्रा को सुरक्षित एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराने के निर्देश दिए है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि यात्रा प्रारम्भ होने से पहले सभी आवश्यक सुविधाएं सुनिश्चित कर ली जाए। ऐसी उत्तम व्यवस्था होनी चाहिए कि काँवड़ यात्रियों को व्यवस्था में बदलाव दिखायी पड़े और वे अपनी यात्रा सुविधापूर्ण ढंग से सम्पन्न कर सकें। उन्होंने कहा कि काँवड़ यात्रा को सुगमतापूर्वक सम्पन्न कराने के लिए राज्य सरकार हर सम्भव सहयोग करेगी तथा इसके लिए फण्ड आदि की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री जी आज यहां शास्त्री भवन में श्रावण मास में होने वाली काँवड़ यात्रा के सम्बन्ध में शासन-प्रशासन और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। बैठक में उत्तराखण्ड राज्य के उच्चाधिकारी भी शामिल हुए। ज्ञातव्य है कि कांवड़ यात्रा की व्यवस्थाओं की समीक्षा के लिए पहली बार मुख्यमंत्री स्तर पर ऐसी बैठक आयोजित की गई।

सीएम योगी ने कहा कि काँवड़ यात्रा का प्रबन्धन सकारात्मक दृष्टिकोण से किया जाए। यह एक धार्मिक यात्रा है, इसमें हर्षोल्लास का वातावरण रहना चाहिए। सर्वोच्च न्यायालय की व्यवस्थाओं का पालन करते हुए काँवड़ यात्रियों को निश्चित डेसिबल तक के ही ध्वनि प्रसारकों की अनुमति दी जाए। बिना अनुमति के ध्वनि प्रसारकों का इस्तेमाल न हो। ध्वनि प्रसारकों पर भजन संगीत बजाया जाए। यह सुनिश्चित करें कि फिल्मी गाने, अश्लील गाने, भड़काऊ गाने आदि न बजाएं जाएं।

मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे काँवड़ियों को यह जानकारी अवश्य दें कि यात्रा के दौरान क्या किया जाए और क्या नहीं किया जाए। साथ ही, समाचार पत्रों, एफ0एम0 आदि के माध्यम से इनका व्यापक प्रचार-प्रसार भी कराया जाए।
उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों से प्रदेश में आने वाले काँवड़ यात्रियों को भी इन प्राविधानों की जानकारी देने के लिए भी जरूरी कदम उठाए जाएं। इस कार्य में आवश्यकतानुसार सूचना विभाग की सहायता भी ली जाए। नियम-कानून न मानने वालों के विरुद्ध सख्ती भी की जाए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि काँवड़ यात्रा के दौरान सुरक्षा के सभी जरूरी उपाय अपनाए जाएं। प्रत्येक जनपद में जिला प्रशासन और थाने स्तर पर पहले से बैठक करके कार्य योजना बना ली जाए तथा शरारती तत्वों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई कर ली जाएं।
उन्होंने कहा कि काँवड़ समितियों को सूचीबद्ध किया जाए तथा जहां काँवड़ चिन्हित हैं वहां उनसे थाने स्तर पर बैठक करके काँवड़ के दौरान पालन किए जाने वाले नियमों के बारे में अवगत कराया जाए। कम्यूनिटी पुलिसिंग के अन्तर्गत शान्ति समिति की बैठकें आवश्यक रूप से की जाएं। ये बैठकें औपचारिकता मात्र न हों।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि काँवड़ यात्रा के दौरान सुरक्षा, स्वच्छता, पेयजल आदि की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।
समस्त व्यवस्थाएं समयावधि मे सुनिश्चित कर ली जाएं। काँवड़ यात्रा मार्ग पर टैंकरों आदि में रखा पेयजल साफ एवं सुरक्षित होना चाहिए। हैण्डपम्प चालू हालत में होने चाहिए।
इनमें आवश्यकतानुसार क्लोरीन की गोलियां पड़ी होनी चाहिए। काँवड़ मार्ग पर प्रकाश व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों के काँवड़ यात्रा मार्ग पर सफाई, पेयजल, शौचालय आदि की व्यवस्था ग्राम विकास विभाग द्वारा सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि काँवड़ यात्रा मार्गाेें पर दुर्घटना रोकने के लिए हर सम्भव कदम उठाए जाएं।
काँवड़ यात्रा से सम्बन्धित सभी मार्ग गड्ढा मुक्त किए जाने के साथ ही, जल भराव और अन्य टूटफूट से भी मुक्त होने चाहिए, जिससे नंगे पांव चलने में काँवड़ियों को असुविधा न हो।
उन्होंने कहा कि जिन मार्गाें पर मरम्मत का कार्य चल रहा है, उन्हें समय-सीमा के अन्दर ठीक कर लिया जाए। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को मौका-मुआयना करके सभी सुविधाएं सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सम्बन्धित विभाग काँवड़ मार्गाें पर काँवड़ियों हेतु लगे शिविरों तथा अन्य दुकानों आदि में खाद्य पदार्थाें की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं। साथ ही, यह भी ध्यान रखें कि किसी का अनावश्यक उत्पीड़न भी न हो।
काँवड़ मार्ग के आस-पास स्थित होटलों-ढाबों एवं अन्य दुकानों में काँवड़ियों से सामानों के लिए अधिक धनराशि की वसूली रोकने हेतु कदम उठाए जाएं।
काँवड़ मार्गाें पर एम्बुलेन्स एवं चिकित्सा सहायता शिविर लगाए जाएं, रोडवेज बसों का समय से परिचालन सुनिश्चित किया जाए।

साभार-लखनऊ से विजेंद्र मिश्रा