गोवंश को वध के लिए ले जाने वाले को 3 वर्ष का कठोर कारावास

हरिद्वार(क्रिसपाल सिंह)।

हरिद्वार गोवंश पशु को वध करने लिए ले जाते समय पकड़े गए अभियुक्त को द्वितीय अपर सिविल जज सीनियर डिवीजन, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ज्योति बाला ने तीन वर्ष की कठोर कैद तथा ₹5000 जुर्माने की सजा सुनाई है।
शासकीय अधिवक्ता सुमति जखमोला ने बताया कि 10 अक्टूबर 2005 को उप निरीक्षक अमरजीत सिंह अपने सहकर्मियों के साथ भारत माता मंदिर से सप्त ऋषि की ओर जा रहे थे तो रास्ते में उन्हाेने हरिपुर कला की तरफ से आ रहेे मिनी ट्रक को संदेह होने पर रोका था जिस पर ट्रक में बैठे दो व्यक्ति मौका पाकर उतर कर भागने में कामयाब हो गए थे जबकि पुलिस ने ट्रक चालक को मौके पर ही पकड़ लिया था उक्त ट्रक के चालक ने अपना नाम मौसिन पुत्र यासीन निवासी मतलब पूरा लक्सर बताया था पुलिस को ट्रक के अंदर से गोवंश पशु रस्सी से बंधा तथा प्लास्टिक की पन्नी से ढका हुआ मिला था ट्रक चालक ने बताया था कि गोवंश पशु उन्होंने नेपाली फॉर्म ऋषिकेश रोड से गाड़ी में चढ़ाई है जिसको वे वध करने के लिए अपने दो साथियों के साथ ले जा रहा था पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ गोवंश अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया था मामले से संबंध में करने में वादी पक्ष की ओर से 4 गवाहों के बयान कराए गए दोनों पक्षों को सुनने के बाद न्यायालय ने मोसिन को दोषी पाते हुए 3 वर्ष की कठोर कैद वह ₹5000 जुर्माने कीे सजा सुनाई