कुम्भ 2021-शंकराचार्य शिविर में होंगे भव्य गंगा आरती के दर्शन

हरिद्वार(विकास तिवारी)।

नीलधारा स्थित ज्योतिष पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य शिविर के समीप चैत्रमास प्रारंभ होने के साथ ही शंकराचार्य शिविर प्रारंभ हो गया है। इस अवसर पर मां गंगा की पूजा अर्चना के साथ ही दिव्य व भव्य आरती की गई । चैत्र मात्र का पूर्णिमा तक नियमित रूप से गंगा जी का पूजन व सांयकालीन आरती की जाएगी। प्रथम आरती अग्निपीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर ब्रह्मर्षि रामकृष्णानन्द महाराज द्वारा संपन्न हुई। मुख्य अतिथि पुरी पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य के शिष्य राजेश ब्रह्मचारी रहे।
शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के शिष्य प्रतिनिधि स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती बताया कि सोमवार को गंगा जी की विधिवत पूजा अर्चना एवं दिव्य और भव्य आरती के साथ शंकराचार्य शिविर में कुंभ पर्व आरंभ हो गया है । उन्होंने बताया कि कुंभ पर्यंत मां गंगा की पूजा अर्चना एवं साईं कालीन आरती भक्तों द्वारा की जाएगी । इस अवसर पर देश के विभिन्न प्रांतों से आए श्रद्धालु लोग मां गंगा का पूजन अर्चन करेंगे। आज साईं कालीन आरती के अवसर पर स्वामी अभिमुक्तेश्वरानंद सरस्वती ,ब्रहमचारी श्रवण आनंद, ब्रह्मचारी मुक्तानंद कृष्ण वधाम के परमाध्यक्ष प्रेमानंद शास्त्री जी महाराज ,हिंदू महासभा के उत्तराखंड प्रभारी स्वामी दामोदर आचार्य,राजस्थान के श्री महंत रत्नागिरी, आचार्य करुणानिधान, वनारस से आए पंडित आदि मौजूद रहे।