ठोकर नम्बर 4 पर महिला का शव गंगा में फेक कर लोग फरार

हरिद्वार (सम्वाद सूत्र)।

शहर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत ठोकर नंबर 4 के समीप एंबुलेंस द्वारा एक महिला का शव निकालकर गंगा में फेंक दिया गया। स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया लेकिन एंबुलेंस और कार समेत लोग फरार हो गए।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार की शाम को एक एंबुलेंस और हरियाणा नंबर की कार ठोकर नंबर 4 के समीप रुकी थी। कार और एंबुलेंस से उतरे चार और पांच युवकों ने महिला का शव एंबुलेंस से उतारा और गंगा में फेंक दिया इसका गंगा घाट पर मौजूद लोगों ने विरोध किया, लेकिन एंबुलेंस और कार लेकर युवक फरार हो गए। इसकी सूचना पुलिस को भी दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची सप्तरिषि चौकी प्रभारी राजीव उनियाल ने लोगों से जानकारी ली इसके बाद वायरलेस पर कार और एंबुलेंस के बारे में सूचना प्रसारित की गई, लेकिन दोनों का पता नहीं चल पाया।पुलिस ने सर्च अभियान चलाया लेकिन किसी का पता नहीं चल पाया। चौकी प्रभारी ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे चेक किए जा रहे हैं रहे हैं। छात्र संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष हिमांशु सरिन, मंत्री आदित्य राणा, अंशु तिवारी आदि ने जानकारी लेनी चाही तो महिला के शव को गंगा में फेंकने वाले लोगों ने कोई जानकारी नही दी। इसके बाद सभी लोग सीधे एंबुलेंस में बैठकर रफ़्फ़ुचककर हो गए। जबकि शव को जल समाधि ठोकर नंबर 10 के घाट पर दी जाती है। लेकिन इन लोगों ने ठोकर नंबर 4 पर ही महिला के शव को गंगा में फेंक दिया।