गांधी के खिलाफ नायडू होंगे एनडीए के उप राष्ट्रपति उम्मीदवार

नई दिल्ली ।

एनडीए ने आने वाले उप-राष्ट्रपति चुनाव को लेकर अपने उम्मीदवार के तौर पर सूचना एवं प्रसारण मंत्री और केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू के नाम पर मुहर लगा दी है। भाजपा की संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद वेंकैया के नाम की औपचारिक घोषणा की गई। बैठक के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि वेंकैया के नाम पर एनडीए के सभी सहयोगी दलों के बीच चर्चा हुई। भाजपा अध्यक्ष ने आगे कहा कि नायडू मंगलवार को सुबह ग्यारह बजे अपना नामांकन दाखिल करेंगे।

उपराष्ट्रपति के पद के लिए नायडू के नाम का एलान होने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि मैं वेंकैया नायडू को काफी सालों से जानता हूं। उनके कठिन परिश्रम और तप की हमेशा तारीफ की है। उपराष्ट्रपति के लिए बेहद उपयुक्त उम्मीदवार हैं।

वहीं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि अनुभवी वेंकैया नायडू सभी तरीके से उपराष्ट्रपति पद के लिए उपयुक्त उम्मीदवार हैं।

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि एक किसान का बेटा देश का अगला उपराष्ट्रपति बनेगा। वेंकैया जी सपर्पित व्यक्ति हैं।

वेंकैया नायडू-गोपालकृष्ण गांधी के बीच मुकाबला

उप-राष्ट्रपति को लेकर जहां एक तरफ पूरी तरह से आंकड़े सरकार के पक्ष में हैं ऐसे में हामिद अंसरी के दूसरे कार्यकाल पूरा होने के बाद नायडू देश के अगला उप-राष्ट्रपति बन सकते हैं। नायडू विपक्षी उप-राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी का मुकाबला करेंगे। गोपालकृष्ण गांधी को अठारह विपक्षी दलों ने अपनी ओर से उतारा है।

एनडीए उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए दक्षिणी राज्य से किसी को उतारने की इच्छुक थी। रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार(उत्तर प्रदेश से प्रतिनिधित्व करते हैं) के तौर पर उतारे जाने के बाद वेंकैया नायडू इस पद के लिए बिल्कुल उपयुक्त हैं क्योंकि वह आंध्र प्रदेश से आते हैं, जिसका हाल में दो राज्यों में विभाजन किया गया है। इसके साथ ही नायडू का तमिलनाडु से भी संबंध है।