खुले में पेशाब करना नगर पालिका के जेई को पड़ा भारी,डीएम ने किया 1 हजार का जुमार्ना

हरिद्वार।(धर्मेंद्र चौधरी)

जिलाधिकारी कार्यालय के पास खुले में पेशाब करना सरकारी कर्मचारी को महंगा पड़ गया। जिलाधिकारी दीपक रावत ने कड़ी फटकार लगाते हुए अधिकारी पर 1 हजार रु का जुर्माना लगा दिया।

जानकारी के अनुसार स्वछता अभियान के तहत जिलाधिकारी ने नगर निकायों की बैठक मुख्यालय में बुलाई था। बताते है कि इसी बैठक में शामिल होने मंगलौर नगर पालिका के जे ई जगदीश चन्द्र भी आये हुए थे। इसी दौरान उन्हें बहुत तेज लघुशंका लगी,ओर वह कलैक्ट्रेट में खुले में ही पेशाब करने गए। तभी जिलाधिकारी वहां आ गए और उन्होंने जेई को फटकार लगाते हुए 1 हजार रुपये का जुमार्ना लगा दिया। यही नही बैठक में मंगलौर के ईई के उपस्थित न रहने पर उनकी एक माह की सैलरी काटने के भी आदेश दे दिया।